Khwaab Shayari in Hindi
Khwaab Shayari

Khwaab Shayari

ख्वाबों को असलियत में बदलने का ख्वाब रखते हैं ,
मगर अपनों को भी दर्द ना हो यह ख्याल रखते हैं ,
हम अपनों के खातिर खुद को भूल जाते हैं,
और 1 दिन आखिरकार सपने टूट जाते हैं।

Khwaab Shayari

khwab Shayari in Hindi

कभी-कभी बड़े हसीन ख्वाब होते हैं,
टूट जाते हैं फिर भी होठों पर मुस्कान दे जाते हैं।

khwab Shayari in Hindi

2 line Khwaab Shayari

सोने से पहले ख्वाबो में और,
तुम सोने के बाद ख्वाबों में तुम।

Shayari on khwab

शाम से एक हलचल सी है,
दिल में,
की ख्वाबों के सफर से,
कैसे निकला जाए।

Shayari on khwab

Tute Khwab Shayari

जो नज़्मे तेरा नाम न लेती हु,
वो नज़्मे मेरे किस काम की,
जिस ग़ज़ल में तेरे ख्वाब न हो,
वो गजले बदनाम सी।

Tute Khwab Shayari