Author: Pratiksha

Poem on Women in Hindi – तुम मेरी चुप्पी लेते आना – नारी शोषण पर कविता

Poem on Women in Hindi – तुम मेरी चुप्पी लेते आना – नारी शोषण पर कविता

 नारी शोषण पर कविता – मेरी चुप्पी अगर आना तो तुम मेरी चुप्पी लेते आना, मेरी बर्बादी की साज लेते आना, मुंह बंद कर रख देना किसी कोने में, पिंजरा…

पूरा पढ़ें..

Little Girl Poem – आंखों में शरारत लिए – Poems on Girl

Little Girl Poem – आंखों में शरारत लिए – Poems on Girl

बेटी पर कविता उसकी चुपी बेईमानी है, वो जो खामोश बैठी है, आंखों में शरारत लिए, दबी हुई मुस्कान लिए, थोड़ी सी चंचल है, नादानी उसकी निराली है, वो सरमाती…

पूरा पढ़ें..

खामोशी शायरी – कुछ तो है – Meri Khamoshi Shayari in Hindi

खामोशी शायरी – कुछ तो है – Meri Khamoshi Shayari in Hindi

Meri Khamoshi Shayari: खामोशी वो शब्द है जो सिर्फ आपके अपने ही समझ सकते हैं । कभी-कभी चेहरे की बातें आपकी खामोशियां ही बता देती है। सिर्फ आपका हमदर्द ही आपकी…

पूरा पढ़ें..

माँ शायरी हिंदी में – मेरी मां है वो ,वह सब कर लेती है – Shayari Maa Pe

माँ शायरी हिंदी में – मेरी मां है वो ,वह सब कर लेती है – Shayari Maa Pe

Shayari Maa Pe: माँ सबके लिए सबसे प्रिय होती है, जिसके पास माँ होती है मानो उसके पास संसार की सब दौलत और सुख होते है। माँ के नाम से…

पूरा पढ़ें..

चाहत शायरी – कुछ उदासी थी उनकी चेहरे पर – Chahat Ki Shayari

चाहत शायरी – कुछ उदासी थी उनकी चेहरे पर – Chahat Ki Shayari

Chahat Ki Shayari: चाहत ही है जो हमको एक दूसरे से कुछ चाहने की उम्मीद दिखाती हैं । चाहत ही आपको किसी से भी प्रेम की उम्मीद दिला सकती है…

पूरा पढ़ें..

Hit enter to search or ESC to close.